आधार कार्ड के जरिए सिम कार्ड देने पर लगी रोक- नया सिम कार्ड चालू करने के लिए अब करना होगा 5 दिन का इंतज़ार

0
147

Sim Card Activation- Now 5 Days

 

स्मार्टफोन तो हम सब चलाते हैं लेकिन बिना किसी सिम कार्ड के आपका स्मार्टफोन बेकार है।   ना तो आप किसी से बातचीत कर सकते हैं ना ही आप इंटरनेट का प्रयोग कर सकते हैं। इसलिए स्मार्टफोन के साथ साथ सिम की भी उतनी अहमियत है जितना कि स्मार्टफोन की। हमारे देश काफी तरक्की पर है, जिस सिम को लेने के लिए हमें बहुत सारे दस्तावेज देने पड़ते थे आज वह बस एक आधार कार्ड की कॉपी से ही हो जाता है।

पहले हम सबको सिम कार्ड लेने के लिए एक लंबी process से गुजरना पड़ता था। सबसे पहले आपको अपनी दो फोटो और कुछ दस्तावेज देने पड़ते थे फिर वे सिम मोबाइल में लगाने के बाद तुरंत चालू नहीं होती थी आपको एक नंबर पर कॉल करना पड़ता था जिसके बाद ही सिम चालू हो पाती थी और इसमें 1 से 2 दिन तक का समय लग जाता था। उसके बाद तरक्की ऐसी आई कि आपको बस अपने आधार कार्ड की कॉपी देनी पड़ती थी और सिम आपको मिल जाती थी और वह भी 1 दिन के अंदर ही अंदर चालू हो जाती थी।

काफी प्रयोग के बाद यह सिस्टम निकाला गया कि आपको बस अपना आधार कार्ड एक बार के लिए दुकानदार को देना है वह आपके अंगूठे का छाप लेगा और  आपकी सिम चालू हो जाती सिर्फ कुछ मिनट में। लेकिन सरकार के हिसाब से अब आधार कार्ड के जरिए सिम कार्ड देने पर रोक लगा दी गई है।

 

क्या आया से नोटिस?

UIDAI ने काफी टेलीफोन कंपनियों को 15 अक्टूबर से पहले पहले आधार कार्ड से सिम  देने पर पाबंदी लगा दी गई है और ये ऑर्डर सुप्रीम कोर्ट ने दिया है इस चीज का उल्लंघन करने पर कड़ी से कड़ी कार्रवाई की जाएगी। कभी बड़ी टेलीकॉम कंपनियों के पास 1 अक्टूबर को एक चिट्ठी आई जिसने यह सब साफ लिखा गया था। UIDAI ने काफी कड़ी भाषा में कहा कि यदि इसका दुरुपयोग किया गया और यह बात नहीं मानी गई तो उनकी  सर्विसेज तुरंत के तुरंत बंद कर दी जाएंगी।

 

UIDAI ने आगे कहा कि यदि कोई भी सिम कार्ड ऑपरेटर अपने आधार को अपने मोबाइल नंबर से हटाना चाहता है  तो वह आसानी से यह कर सकता है और नई तरीके से सिम ले सकता है। ने यह भी कहा कि सारी टेलीकॉम कंपनियां अपने ग्राहकों को अच्छे से बता दें कि यदि वह चाहते हैं कि उनका फोन नंबर आधार कार्ड से हट जाए तो वह कैसे हटा सकते हैं। UIDAI का मानना है कि यदि आधार की सारी जानकारियां खो गई तो वे ग्राहकों को और किसी तरह पहचान नहीं कर सकती। इससे हर कंपनी को बहुत बड़ा नुकसान होगा।

sim card activation

कोर्ट के कड़े ऑर्डर के बाद भी काफी दुकानदार अभी भी आधार के जरिए सिम कार्ड दे रहे हैं क्योंकि उनके पास अभी भी किसी भी टेलीफोन नेटवर्क कंपनी का कोई नोटिस नहीं आया है। काफी बड़ी कंपनियों का कहना है कि यह चीज गलत हो रही है और उसको वापस से एक बार देखा जाए। आंकड़ों की मानी जाए तो  लगभग 90% नई कस्टमर सिम कार्ड आधार के जरिए ही ले रहे हैं। एक अनुमान के मुताबिक 50% भारतीय लोगों के मोबाइल नंबर उनके आधार से लिंक है।

 

क्या लग सकते हैं 5 दिन सिम कार्ड को चालू करने के लिए?

अब बस यह देखना रह गया है कि नहीं सिम कार्ड कैसे लोगों को मिलते हैं और कितना समय लगता है। कई लोग का कहना है कि अब फिर से सिम कार्ड को लेने के लिए 5 दिन तक का समय लग जाएगा।

सुप्रीम कोर्ट का यह फैसला काफी लोगों को पसंद आ रहा है क्योंकि कई लोग नहीं चाहते थे कि उनका नंबर उनके आधार कार्ड से लिंक हो क्योंकि कई बार मोबाइल नंबर का इस्तेमाल करके आधार कार्ड  की सारी सूचना निकाली जाती थी जो भी खतरे से खाली नहीं था। अब आने वाला समय ही बताएगा की नई सिम कैसे मिल सकती हैं और यह भी कहा जा रहा है कि अलग-अलग टेलीकॉम कंपनी अलग अलग तरीके से सिम कार्ड को  ग्राहकों को देंगी।

 

-Siddharth Vikram

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here