India Stands on 58th Place in World Economic Forum

0
77

India Stands on 58th Place in World Economic Forum

पाँच पायदान चढ़कर World economic forum की 58वी प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्था बना भारत
वर्ल्ड इकनोमिक फोरम के द्वारा हाल ही में जारी की गई रिपोर्ट के अनुसार दुनिया की सबसे प्रतिस्पर्धी अर्थव्यवस्थाओं वाले देशो की सूची में भारत 58वे स्थान पर है। पिछले साल के मुकाबले इस वर्ष भारत ने 140 अंको की भड़ोत्री के साथ 53वे स्थान को छोड़ कर सीधे 58वे स्थान पर छलांग लगाई है। इसका सीधा सीधा मतलब है की भारत को इस वर्ष पांच पायदान का फायदा हुआ है।  रिपोर्ट के अनुसार भारत की अर्थव्यवस्था में इस साल किसी अन्य देश के मुकाबले सबसे ज्यादा सुधार हुआ है।

America stands on number 1

India Stands on 58th Place in World Economic Forum
साल 2008 के बाद पहली बार अमेरिका शीर्ष पर रहा है। अमेरिका के इतनी बड़ी अर्थव्यवस्था होने के बाबजूद नंबर 1 पर पहुंचने में दस साल लग गए। इसका पूरा श्रेय अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प को देते हुए अमेरिकी इकनोमिक एक्सपर्ट ने बताया की पिछले कई सालो से अन्य देशो से कर रहे व्यापार में अमेरिका पड़ौसी देशो को कुछ सब्सिडी प्रदान करता था, जिसे डोनाल्ड ट्रम्प ने सत्ता में आने के बाद बंद कर दिया, जिसके कारण अमेरिका के खजाने में 12% की बढ़ोतरी इस साल हुई है। इसी के साथ अमेरिकी एक्सपर्ट ने साफ शब्दों में बता दिया की अमेरिका हाल फिलाल किसी भी देश से व्यापार के मामले में किसी भी प्रकार की छूट को प्रस्तुत नहीं करेगा।
Jaitley says GST has improved The India Economy 
India Stands on 58th Place in World Economic Forum

63वे नंबर पर था भारत पिछले साल, जीएसटी से हुआ सुधार

भारत के फाइनेंस मिनिस्टर अरुण जेटली ने रिपोर्ट के सामने आने के बाद जाहिर किया की जीएसटी लागू होने के बाद से देश के खजाने में तीस फीसदी बढ़ोतरी हुई है जिसके कारण भारत ने कारोबार के विस्तार और व्यापारियों को लाभ देने के उदेश्य से नई योजनाओ का विवरण किया है। दिन प्रतिदिन भड़ते व्यापार और  जनता के प्रति टैक्स चुकाने की लगन से आज भारत पांच पायदान की बढ़ोतरी के साथ विश्व की 58वी अर्थव्यवस्था बनने में कामयाब हो पाया है। साथ ही में जेटली ने बताया कि, जीएसटी एक अच्छे परिणाम के साथ देश के हित में सामने आया है और इसी के कारण आज भारत कामयाबी को हासिल कर पाया है। देश को कारोबार की नयी उचाईयो तक पहुंचाने के लिए सरकार निरंतर काम कर रही है और जल्द ही कुछ नई ग्लोबल कम्पनीज को भारत में स्थापित कर देश के व्यापार को नई राह पर ले जाने की कोशिशे जारी है।

INDIA IS AHEAD IN HEALTH AND LITERACY

स्वास्थ्य, शिक्षा और कौशल में भारत आगे

India Stands on 58th Place in World Economic Forum
शिक्षा और स्वास्थ्य वो दो प्रमुख फैक्टर्स है जिनके आधार पर देश की आर्थिक स्तिथि का अनुमान लगाया जाता है। रिपोर्ट के अनुसार भारत इस वर्ष स्वास्थ, शिक्षा और कौशल जैसे प्रतियोगी क्षेत्रों में इस वर्ष काफी आगे गया है। हाल ही में  विश्व स्तर पर हुई परीक्षाओ में भारत के कैंडिडेट्स ने कमाल कर अच्छी पेड पोस्ट्स को हासिल किया है जिसके कारण भारत के नागरिको के हाथ रोजगार लगा और उनकी पर्चेसिंग पॉवर भड़ी है। इस वर्ष भारत में पिछले साल के मुकाबले स्वास्थ्य पर कम खर्च हुआ है जिससे देश के लोगो  में स्वास्थ्य हालात इस वर्ष अच्छे होने के अनुमान सामने आए है।

INDIA NEEDS INNOVATION, UNEMPLOYMENT NEEDS TO GET FIX

भारत को और सुधार के लिए इनोवेशन और बेरोज़गारी को कम करने की जरुरत

India Stands on 58th Place in World Economic Forum
इनोवेशन के मामले में भारत अभी भी कई अंक पीछे है। विश्व आर्थिक मंच की रिपोर्ट के अनुसार भारत के उत्पाद बाजार को अभी इनोवेशन की जरुरत है। विश्व बाजार में जो दिखता है वही बिकता है और भारत अपने ट्रेड ट्रेंड में किसी भी बदलाव को लाने में इच्छुक नहीं है जिसके कारण चीन अपने इनोवेटिव आइडियाज द्वारा मार्किट में धूम मचा रहा है। हालाँकि कौशल क्षेत्र में सुधार अभी जारी है लेकिन अगर जल्द ही कुछ नहीं किया गया तो श्रीलंका भारत के मुकाबले आगे निकलने को तैयार है।
साथ ही अर्थव्यवस्था में बढ़ोतरी को जारी रखने के लिए भारत की जनसँख्या को रोज़गार देने की ज़रूरत है। सरकार की नीतियों के बाबजूद अभी तक युवाओ में नौकरशाही के कारण देश पीछे है। जो युवा पढ़ा लिखा होने के बाबजूद बेरोज़गार है वह देश की अर्थव्यवस्था को कैसे मज़बूत करने में सहायता करेगा। इसलिए सरकार और बड़ी बड़ी कम्पनीज को ज़रूरत है की वे रोज़गार के नए मार्ग प्रस्तुत करे।

TOP 10 COUNTRIES IN WORLD ECONOMIC FORUM’S LIST

विश्व आर्थिक मंच के शीर्ष 10 देशो की सूचि

1. अमेरिका
2. सिंगापूर
3. जर्मनी
4. स्विट्ज़रलैंड
5. जापान
6. नीदरलैंड
7. हांगकांग
8. ब्रिटेन
9. स्वीडेन
10. डेनमार्क
BY- YASH GARG

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here