यह है कुछ तरीके जिससे आप अपने  गंदे और फटे हुए नोट बदल सकते हैं

0
362

Latest Rules of RBI in Exchanging Defective Currency

 

रुपयों का लेनदेन बहुत पुराने समय से चला आ रहा है पहले के जमाने में लोग एक दूसरे की चीज बदलकर समझौता करते थे और इसी से अपना गुजारा चलाते थे लेकिन जैसे-जैसे समय बदलता गया, लोगों को ज्ञान होता गया कि हम एक ही चीज के बदले दूसरी चीज उसी मात्रा में नहीं दे सकते हैं क्योंकि सब का मूल्य अलग-अलग होता है। और यही कारण से नोट का बढ़ावा आगे आया।

भारत में रुपयों को छापने की अनुमति सिर्फ आरबीआई को है यदि और किसी माध्यम से नोट छपते हैं तो वह गैर कानूनी माना जाता है। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया यानी कि आरबीआई एक सरकारी विभाग नहीं है बल्कि एक सर्वोच्च संस्था है जो नोट और सिक्के बनाती है।

How to exchange defective currency

आरबीआई तो एकदम नई नोट बनाती है लेकिन वह लोगों में आते आते हैं पुराने हो जाते हैं। लेकिन नोट पुराने होने का मतलब यह नहीं कि उसकी वैल्यू घट जाती है लेकिन कई लोग उसको लेने से मना कर देते हैं। आप सभी ने कभी ना  कभी दुकानदार से पुराना या फटा हुआ नोट लिया ही होगा और ले भी क्यों ना मजबूरी होती है क्योंकि उनके पास और कोई नोट नहीं होता है।

लेकिन जैसे-जैसे आपके पास वह नोट रहता है वह और पुराना होते जाता है और उसकी हालत और बेकार हो जाती है अब आपको चिंता होने लगती है कि यह नोट कौन लेगा। इस परेशानी को संभालने के लिए आरबीआई ने कुछ नई पॉलिसी लाई।

आरबीआई के हिसाब से पुराने नोटों का मतलब वह नोट जो गंदे हो गए हैं रोज मजा के  इस्तेमाल से और यह भी कि अगर दो फटे हुए नोट एक साथ चिपके हुए हैं लेकिन वह दोनों हिस्से एक ही नोट से संबंध रखते हैं तो वह नोट भी खराब नोटों में माना जाता है।

How to exchange defective currency

तो यह है कुछ तरीके जिससे आप अपने  गंदे और फटे हुए नोट बदल सकते हैं।

 

आरबीआई के हिसाब से हर एक बैंक की जिम्मेदारी है कि वह फटे हुए नोट या खराब नोट खोले तो आप किसी भी पास के बैंक में जा सकते हैं अपने गंदे या फटे हुए नोट को बदलवाने के लिए।

How to exchange defective currency

यदि आप किसी बैंक जाते हैं अपने फटे हुए पुराने नोट को बदलवाने तो इसके कोई पैसे नहीं लिए जाएंगे और आरबीआई ने यह भी कहा है हर बैंकों की वह बाहर एक नोटिस लगाएं जिस पर लिखा हुआ हो कि पुराने और फटे हुए नोट हम लेते हैं।आप अपने बिजली के बिल पानी का बिल या घर का टैक्स कोई भी सरकारी काम के पैसे  बैंक के जरिए भर सकते हैं।

How to exchange defective currency

यदि आपको यह पैसे अपने बैंक में जमा कराने हैं तो आप अपने बैंक जाकर अपने पुराने फटे हुए नोट अपने खाते में जमा कर सकते हैं लेकिन बैंक वापस किसी आदमी को यह पैसे नहीं दे सकता यह पैसे उनको एक जगह जमा करने पड़ते हैं जिससे अरबी उनको उनसे इकट्ठा कर ले।

 

यह सब नोट नहीं बदले जाएंगे।

 

यदि आपके पास कुछ ऐसे नोट हैं जो कि फटे हुए हैं या उनकी हालत बहुत बेकार है या फिर वह 2 से ज्यादा टुकड़ों में जुड़े हुए हैं तो यह सारे नोट बैंक नहीं लेगा इसके लिए आपको अपने नजदीकी issue office जाना पड़ेगा जहां पर यह सही किया जाएगा।

How to exchange defective currency

यदि आप के नोट पर कोई भी सरकारी पार्टी का नारा लिखा हुआ है तो यह  नोट बैंक स्वीकार नहीं करेगा उनको काउंटर पर ही रिजेक्ट कर दिया जाएगा।

इसके अलावा यदि आपके पास कोई ऐसा नोट है जो कि आपने खुद ने पढ़ा है तो वह बैंक नहीं ले पाएगा क्योंकि बैंकों में एक अफसर होता है जो कि इसकी जांच करता है और वह देखते ही समझ जाएगा कि यह नोट आपने खुद पढ़ा है या फिर इस्तेमाल करने से फटा है।

How to exchange defective currency

यदि आप बैंकों के अलावा किसी और आदमी या अफसर से नोट बदलते पकड़े गए तो आपके ऊपर सख्त कार्यवाही हो सकती है। इसलिए जब भी आप अपने पुराने फटे हुए नोट बदले तो हमेशा बैंक से या किसी सरकारी ऑफिस में ही बदलें | हमेशा इस बात का ध्यान रखें कि कोई भी बैंक आपके पुराने फटे नोट नोटों को लेने से  अस्वीकार नहीं कर सकता। आपको कहीं भी लगता है कि रुपयों का गलत लेनदेन हो रहा है तो आपको तुरंत अपने नजदीकी सरकारी ऑफिसर या पुलिस स्टेशन में रिपोर्ट करनी  चाहिए।

 

सिद्धार्थ विक्रम

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here