कैसे होता है सोशल साइट्स पर डाटा का उल्लंघन? कैसे है यह बड़ी समस्या ?

0
242
how social networking data breach is a big deal

How Social Networking Data Breach is A Big Deal

हम सभी सोशल साइट से और उसकी लत से बहुत अच्छी तरह से वाकिफ है कैसे हम अपना अधिकतर समय सोशल मीडिया पर ही निकाल देते हैं और अपनी सारी निजी जानकारी उस पर डाल देते हैं। तो अब आप कह रहे होंगे यह डाटा उल्लंघन क्या होता है? चलिए हम आपको बताते हैं यह डेटा उल्लंघन क्या होता है।

 

क्या है डाटा भंग ?

डाटा भंग इस बात की पुष्टि की घटना है जिसमें संवेदनशील गुप्त और सुरक्षित डाटा किसी अनाधिकृत तरीके से खोल लिया जाता है या चुरा लिया जाता है। डाटा भंग में आपकी निजी स्वास्थ्य जानकारी, निजी पहचाने जाने योग्य जानकारी, व्यापार के रहस्य, बौद्धिक संपदा की जानकारी शामिल हो सकती है।

ज्यादातर जो डाटा भंग होते हैं, उनमें निजी जानकारी शामिल होती है जैसे कि क्रेडिट कार्ड नंबर, सोशल सिक्योरिटी नंबर, स्वास्थ्य का इतिहास। इसके साथ ही संयुक्त जानकारी जैसे कि कस्टमर की सूची, निर्माण प्रक्रिया और सॉफ्टवेयर सुरक्षा कोड।

अगर कोई अधिकृत संगठन के पास आपकी जानकारी है और वह आपकी जानकारी को सुरक्षित ना रख पाए उसकी वजह से आपका डाटा भांग हो जाए तो ऐसी अवस्था में सरकार उस संस्थान के  ऊपर जुर्माना लगा देगी या नागरिक मुकदमा कर देगी।

 

अपनी जिंदगी से जुड़ा हुआ एक डेटा भांग का उदाहरण

एक हमलावर ने संगठित संस्थान की वेबसाइट पर जाकर कुछ निजी डाटा चुरा लिया और उसे गलत तरीके से इस्तेमाल किया। सभी डाटा भंग गलत नहीं होते। अगर किसी अस्पताल में कोई अनधिकृत कर्मचारी किसी भी मरीज की स्वास्थ्य की जानकारी किसी भी अधिकृत कर्मचारी के नीचे देखता है तो यह भी डाटा भंग ही कहलाता है, लेकिन यह गलत नहीं होता।

अभी कुछ समय पहले ही ट्रंप को जिताने के लिए उसके वोट बढ़ाने के लिए Facebook के 50000 से ज्यादा उपभोक्ताओं की जानकारी जप्त कर ली गई थी। या यह कहे कि उसका डाटा भंग कर लिया गया था। इसलिए जब आप सोशल मीडिया या Facebook ऐसी कोई भी साइट पर अपनी जानकारी डालते हैं तो उस पर सुरक्षित पासवर्ड लगा दे और वह भी बहुत मजबूत होना चाहिए जिससे कि कोई भी आपकी निजी जानकारी चोरी ना कर सके।

कैसे डाटा भंग हो जाता है ?

how social networking data breach is a big deal

कभी-कभी जब आप Facebook या कोई सोशल साइट चला रहे होते हैं, तो कोई ऐसा मेल आपके पास आता है जिसमें आपकी निजी जानकारी मांगता है और आप उसे दे देते हैं, इससे भी आपकी निजी जानकारी का खुलासा होने का और उसे गलत तरीके से इस्तेमाल करने का खतरा है।

सरकार के द्वारा कुछ ऐसे नियम बनाए गए हैं और जिससे कि डाटा भंग ना हो और कुछ ऐसी कंपनियां भी है जो हर अपने कर्मचारी का डाटा संभाल कर रखती है जिससे कि उसका डाटा का खुलासा सबके सामने ना हो।

 

कैसे आप अपने निजी जानकारी के डेटा को सुरक्षित कर सकते हैं और डाटा भंग से बचा सकते हैं…..

how social networking data breach is a big deal

हमें सरकार और अलग-अलग वेबसाइट के द्वारा बनाए गए नियमों का पालन करना चाहिए, जिससे कि हमारा डाटा सुरक्षित रहें और किसी के भी द्वारा यह भंग ना किया जा सके।

यहां कोई विशेष रूप से या विशिष्ट सुरक्षा नियम नहीं है। जिससे कि आप अपने डाटा का उल्लंघन होने से उसे बचा सके लेकिन आप अपनी जानकारी को अपने तक ही सीमित रखें इससे भी आप अपने डाटा को भंग होने से बचा सकते हैं।

 

डाटा सुरक्षा को नजर रखते हुए कुछ बिंदु….

how social networking data breach is a big deal

  • अगर आप किसी भी सोशल साइट पर अपनी निजी जानकारी डाल रहे हैं। तो वहां पर पासवर्ड मजबूत लगाएं जिससे कि कोई उसे खोल नहीं सके।
  • अपनी कम से कम निजी जानकारी सोशल मीडिया पर डालें।
  • अगर आप Facebook चला रहे हैं तो उसमें आपके कॉन्टेक्ट्स को वह अपलोड करने के लिए बोलता है। तो ऐसा ना करें इससे आपकी और आपके जान पहचान वाले लोगों की भी जानकारी दूसरे तक पहुंच जाती है और इससे भी डाटा उल्लंघन हो सकता है।
  • अगर किसी कंपनी या संस्थान में आप अपनी जानकारी दे रहे हैं तो उतनी ही है जितनी वहां जरूरत हो।

 

 अंजली चौहान

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here