जानिए एनेमिया के लक्षण और कारण: कहीं आपकी थकान की वजह एनेमिया तो नहीं?

0
42

Symptoms and Causes of Anemia

आपकी थकान का कारण एनीमिया तो नहीं?

 

आप अपनी आँखों के नीचे बने काले घेरों से परेशान हैं? आपके नाखून की रंगत गुलाबी से सफ़ेद हो गई है? सर में अक्सर दर्द रहता है? चक्कर आते हैं, सांस फूलती है, बिना काम किए भी थकान महसूस होती है और हमेशा सोने का मन करता है, तो समझ लीजिए कि आपके शरीर में खून की कमी है। शरीर में रक्त की कमी होने वाला रोग एनीमिया ऐसी स्वास्थ्य समस्या है जिसके अधिकांश लोग शिकार हो जाते हैं।

एनीमिया मुख्य्तः हमारे शरीर में आयरन की कमी से होने वाली एक ऐसी बीमारी है, जिसमें शरीर में हीमोग्लोबिन की मात्रा कम हो जाती है। खानपान और जीवनशैली की अनियमितता के कारण महिलाओं में ये समस्या ज्यादा हो जाती है। और यदि गर्भावस्था में यह समस्या हो, तो इसका  शिशु के विकास और माँ की सेहत पर बुरा असर पड़ता है।

एनीमिया क्या है?

symptoms and causes of anemia

हमारे शरीर को हैल्थी व फिट रहने के लिए अन्य पोषक तत्वों के साथ काफी मात्रा में आयरन की जरुरत होती है, क्योंकि आयरन ही हमारे शरीर में रेड ब्लड सेल्स (लाल रक्त कोशिकाओं) का निर्माण करता है। ये कोशिकाएं ही शरीर में हीमोग्लोबिन बनाने का काम करती हैं। हीमोग्लोबिन फेफड़ों से ऑक्सीजन लेकर रक्त में ऑक्सीजन पहुंचाने का काम करता है। इसलिए आयरन की कमी और हीमोग्लोबिन की कमी की वजह से कमजोरी और थकान महसूस होती है और इसी स्तिथी को एनीमिया कहते है।

एनीमिया के कारण क्या है?

विश्व स्वास्थ्य संगठन की एक रिपोर्ट के अनुसार विश्व की कुल आबादी का छठा हिस्सा एनीमिया से ग्रस्त है। अध्ययनों से यह बात सामने आई है कि साठ प्रतिशत महिलाएं और २४% पुरुष एनीमिया से ग्रस्त है। शरीर में आयरन की कमी, हरी सब्जियां न खाना, किसी वजह से शरीर से बहुत खून बह जाने से एनीमिया होता है। जबकि प्रेगनेंसी के दौरान 80 प्रतिशत महिलाएं एनीमिया की शिकार होती हैं। महिलाओं में यह समस्या इसलिए ज्यादा पाई जाती है, क्योंकि पर्याप्त पोषण न मिलने की वजह से वे कमज़ोर हो जाती हैं।

symptoms and causes of anemia

वजन कम करने के लिए डाइटिंग कर रहे लोग भी इसकी शिकार हो जाते हैं। इसके अलावा आँतों का अल्सर या पाइल्स, पीरियड्स के दौरान ज्यादा ब्लीडिंग होने पर, यूटेरूस में ट्यूमर हो तो इनके कारण भी एनीमिया की आशंका बढ़ जाती है। बच्चे को ब्रैस्ट फीडिंग करवाने वाली महिलाएं को भी एनीमिया होने का ख़तरा रहता है।

एनीमिया के लक्षण क्या हैं?

आमतौर पर एनीमिया के एक रोगी को उसकी त्वचा से पहचाना जा सकता है। उनकी त्वचा जर्द या रक्तहीन-सी दिखाई देती है। किन्तु यह लक्षण किसी अन्य बीमारी के भी हो सकते है। एनीमिया में शरीर में थकान, उठने-बैठने और खड़े होने में चक्कर आना, काम करने में मन न लगना, शरीर में तापमान की कमी, त्वचा में पीलापन, असामन्य हृदय गति, सांस लेने में तकलीफ, सीने में दर्द, तलवों और हथेलियों में ठंडापन, लगातार रहने वाला सरदर्द आदि लक्षण देखे जाते हैं। अगर एनीमिया का कोई भी लक्षण लगातार कुछ दिनों से दिखाई दे रहा हो, तो तुरंत हीमोग्लोबिन की जांच करवायें और डॉक्टर से सलाह लें।

symptoms and causes of anemia

कैसे बचे एनीमिया से?

नियमित रूप से संतुलित और पौष्टिक आहार लेने की आदत को अपनी दिनचर्या में शामिल करें। आपके रोजाना के भोजन में आयरनयुक्त खाद्य पदार्थ जैसे हरी पत्तेदार सब्जियों, फलों और अगर आप नोंवेग खाते है तो डाइट मे मटन, चिकन और अन्डा शामिल करें। विटमिन सी के लिए अन्य खाद्य पदार्थों जैसे चुकंदर, आंवला, गाजर, सेब, अनार, खजूर, मूंगफली, गुड़ और सूखे मेवों को जरूर शामिल करें। साथ ही, शरीर में फोलिक एसिड की मात्रा बढ़ाने के लिए अपने रोजाना के खाद्य पदार्थों में कूटू का आटा, ओटमील, गोभी, मशरुम, ब्रोक्कोली, शहद और ऐस्पैरागस को शामिल करें।

symptoms and causes of anemia

रेड मीट भी आपके लिए फायदेमंद साबित होगा। बंदगोभी, गाजर, मूली, खीरा, ककड़ी, लेट्यूस, टमाटर, चुकंदर, जैसी सब्जियों से बने सलाद का अपने रोजाना के भोजन में भरपूर मात्रा में इस्तेमाल करें। जहां तक संभव हो सब्जियां लोहे कि कड़ाई में पकाएं, इससे भोजन में आयरन की मात्रा बढ़ जाती है। ताजा हरी सब्जियों का सूप या फलों का जूस पीना भी फायदेमंद होता है।

~ स्टैफी ब्रिज़वार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here